Bharat Nepal Uttrakhand Nadi Priyojna
हरिद्वार उत्‍तराखण्‍ड

Bharat Nepal Uttrakhand Nadi Priyojna मंत्री सतपाल महाराज ने की यूपी सीएम से शिष्टाचार भेंट, उत्तराखंड के लिए मांगा 665 क्यूसेक पानी

Bharat Nepal Uttrakhand Nadi Priyojna जिला पंचायत व क्षेत्र पंचायत प्रमुखों के प्रत्यक्ष चुनाव पर भी योगी ने जताई सहमति

Bharat Nepal Uttrakhand Nadi Priyojna प्रदेश के लोक निर्माण, पर्यटन, सिंचाई, लघु सिंचाई, पंचायती राज, ग्रामीण निर्माण, संस्कृति, जलागम प्रबन्धन एवं भारत नेपाल उत्तराखण्ड नदी परियोजना मंत्री सतपाल महाराज ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिष्टाचार भेंट कर संयुक्त निरिक्षण के पश्चात टिहरी बांध से उत्तर प्रदेश को उपलब्ध हो रहे अतिरिक्त पानी में से जनपद हरिद्वार के भगवानपुर आदि क्षेत्रों में सिंचाई हेतु 665 क्यूसेक पानी देने का अनुरोध किया। Bharat Nepal Uttrakhand Nadi Priyojna

यह भी पढे :  bharat lok sabha ambala raily गौरवशाली भारत रैली में आखिर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ऐसा क्‍यों कहा कि हमें चाहे कोई भी कीमत चुकानी पडे, 9 वर्ष का विश्‍वास है

Bharat Nepal Uttrakhand Nadi Priyojna प्रदेश के लोक निर्माण, पर्यटन, सिंचाई, लघु सिंचाई, पंचायती राज, ग्रामीण निर्माण, संस्कृति, जलागम प्रबन्धन एवं भारत नेपाल उत्तराखण्ड नदी परियोजना मंत्री सतपाल महाराज ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिष्टाचार भेंट कर  टिहरी बांध से उत्तर प्रदेश को उपलब्ध हो रहे अतिरिक्त 4879 क्यूसेक पानी में से जनपद हरिद्वार के भगवानपुर सहित तीन विकासखण्डों के 74 गांवों की 18280 हेक्टेयर सिंचित भूमि में सिंचाई सुविधा प्रदान करने हेतु 35 किलोमीटर लंबी इकबालपुर नहर प्रणाली एवं कनखल और जगजीतपुर नहर की क्षमता विस्तार किए जाने के लिए संयुक्त निरिक्षण के पश्चात 665 क्यूसेक पानी देने का अनुरोध किया।

Bharat Nepal Uttrakhand Nadi Priyojna महाराज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कहा कि टिहरी डैम से उत्तर प्रदेश को 4000 क्यूसेक पानी की आवश्यकता थी लेकिन डैम की ऊंचाई बढ़ने के बाद उत्तर प्रदेश को 4879 क्यूसेक पानी मिल रहा है जोकि 879 क्यूसेक अतिरिक्त है। हमें उस अतिरिक्त पानी में से ही 665 क्यूसेक पानी चाहिए।  मुख्यमंत्री श्री योगी ने प्रदेश के सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज से पूछा कि इस संबंध में संयुक्त निरिक्षण का क्या हुआ।

Bharat Nepal Uttrakhand Nadi Priyojna
Bharat Nepal Uttrakhand Nadi Priyojna

Bharat Nepal Uttrakhand Nadi Priyojna इस पर महाराज ने बताया कि मार्च महा में संयुक्त निरिक्षण हो चुका है और अब तक इसकी रिपोर्ट आ जानी चाहिए थी। इस बात पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह मामला पहली बार उनके संज्ञान में आया है उन्हे इसकी जानकारी नहीं थी। श्री महाराज ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से अनुरोध किया कि चूंकि संयुक्त निरिक्षण हो चुका है इसलिए अब शीघ्र इसके शासनादेश निकलने चाहिए। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने उन्हें भरोसा दिलाते हुए कहा कि पूरे मामले को दिखाकर शीघ्र ही वह इस पर कार्यवाही करेंगे और उत्तराखंड राज्य की सीमा में आ रही उत्तर प्रदेश की सड़कों को भी  फोरलेन किया जाएगा।

Bharat Nepal Uttrakhand Nadi Priyojna उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के दौरान पंचायत मंत्री सतपाल महाराज ने उनसे जिला पंचायत और क्षेत्र पंचायत प्रमुखों के सीधे चुनाव करवाने के विषय में भी चर्चा की जिस पर उन्होंने अपनी सहमति व्यक्त की। इस मौके पर सिंचाई विभाग के प्रमुख अभियंता जयपाल सिंह, प्रेम सिंह पवार, विकास श्रीवास्तव और पीके दीक्षित भी मौजूद थे।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *