देहरादून उत्‍तराखण्‍ड

गांवों में स्वरोजगार के अवसर पैदा करने जरूरी: कोश्यारी

विकासनगर। जौनसार बावर भ्रमण पर आए पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी ने शुक्रवार को सिमोग स्थित श्री शिलगुर बिजट महाराज के मंदिर में दर्शन-पूजन कर प्रदेश की खुशहाली की कामना की। इसके साथ ही गांव के धार्मिक अनुष्ठान में भी प्रतिभाग किया। पूर्व सीएम ने ग्रामीणों को बताया कि उत्तराखंड स्वरोजगार और आत्मनिर्भरता के साथ धीरे-धीरे खड़ा हो, इसी उद्देश्य से स्थानीय लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए वो प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में प्रवास कर रहे हैं।

उन्होंने कहा है कि उत्तराखंड प्रदेश की अवधारणा तब पूरी होगी, जब पहाड़ के गांवों में स्वरोजगार के अवसर पैदा होंगे और लोग आत्मनिर्भरता के साथ स्थानीय स्तर पर सबका साथ, सबका विकास के मंत्र के साथ आगे बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि जौनपुर, रवाईं, जौनसार बावर के विभिन्न स्थानों पर अनेक लोगों द्वारा बागवानी, होमस्टे, मत्स्य पालन, कृषि एवं विभिन्न क्षेत्रों में अभूतपूर्व सफल प्रयोग किए जा रहे हैं। उन तमाम कर्मशील भूमि पुत्रों के कार्यों को प्रोत्साहित करने के लिए जगह-जगह जाकर प्रवास कर रहा हूं।

पूर्व सीएम ने सिमोग स्थित स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता श्रीचंद शर्मा के निवास पर हुए धार्मिक अनुष्ठान में भी प्रतिभाग किया। इससे पूर्व उन्होंने सिंचाई विभाग के कोटी कॉलोनी स्थित विश्रामगृह में कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। इस दौरान कालसी के ब्लाक प्रमुख मठोर सिंह चौहान, जेष्ठ उप प्रमुख भीम सिंह चौहान, भारत चौहान, पूरण सिंह, साधु राम शर्मा, तिलकराम, सियाराम, लायकराम, मोतीराम, मदनलाल, चतर सिंह, दिनेश शर्मा, जयपाल शर्मा, महावीर शर्मा आदि मौजूद रहे।

उधर, पूर्व सीएम ने हरिपुर से कोटी कॉलोनी होते हुए क्वानु से मीनस तक मोटर मार्ग की दुर्दशा पर नाराजगी जताते हुए कहा कि इस मोटर मार्ग पर लंबे समय से डामरीकरण नहीं हुआ है। विभाग को संज्ञान लेकर जल्द से जल्द मार्ग का डामरीकरण कराना चाहिए।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *